NEWS खास खबर छत्तीसगढ़ राजनीति

पश्चिम विधानसभा सिट के लिए कांग्रेस में  मचा घमासान

रायपुर-विधानसभा चुनाव में अब कुछ ही महीने बचे हैं,लिहाजा कांग्रेस अपना बनवास खत्म करना का पूरा प्रयास कर रही है। ऐसे में कांग्रेस की आपसी कलह कहीं न कहीं इस प्रयास पर खटाई का काम कर रही है।जो अब बात सामने आई है उसने एक बार फिर पीसीसी चीफ के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी कर दी है।
दरअसल कांग्रेस के रायपुर पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के दर्जनों पदाधिकारियों और पार्षदों ने एक पत्र लिख कर साफ कहा है कि विकास उपाध्याय के अलावा आप किसी को रायपुर पश्चिम से विधानसभा प्रत्याशी बनाते हैं तो हम मदद करेंगे। नेताओं ने विकास पर आरोप लगाते हुए स्पष्ट किया है कि विकास उपाध्याय ने पिछले चुनावो में पार्टी कार्यकर्ताओं को अनदेखी की थी। और तो और उस समय की सबसे आसान विधानसभा चुनाव में हार गए। उनका जीतना अब भी संभव नहीं है।
इस संबंध में सबसे पहले हस्ताक्षर में साइन करने वाले युवा कांग्रेस के प्रदेष महामंत्री सुबोध हरितवाल ने कहना है कि विकास उपाध्याय पष्चिम विधानसभा से चुनाव लड़ने काबिल नहीं है इस बावजुद पार्टी जो फैसला लेगी वह सर्वमान्य होगी।
वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भुपेश बघेल ने विकास उपाध्याय के खिलाफ उठे इस राजनीतिक विरोध पर कहा कि कार्यकर्ताओं की जागरूता के लिए मुझे खुशी है, कार्यकर्ताओं ने बात उठाई है तो इसपर गौर किया जाएगा। भूपेष बघेल कर इस बयान से जाहिर होता है कि विकास उपाध्याय को टिकट मिलने में थोड़ी मुश्किल का सामना करना होगा।
बता दें कि पूर्व शहर कांग्रेस अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने रायपुर पश्चिम से ही अपने दावेदारी पेश की है। वहीं उनके पिछले विधानसभा चुनाव के प्रदर्शन को देखा जाये तो इस बार भी उनकी इस सीट से चुनाव लड़ना पक्का माना जा रहा है। लेकिन इस तरह से पार्टी नेताओं का खुलकर विरोध करना विकास समेत पार्टी के लिए मुसीबत बन सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *