NEWS क्राइम न्यूज खास खबर मध्य प्रदेश

BREAKING: एमपी में ये हो क्या रहा है, अब स्कूल जा रही चार बच्चियों का अपहरण

सिवनीः मध्यप्रदेश में इन दिनों अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है, अभी हाल ही में सतना जिले के चित्रकूट में दो सगे भाईयों की अपहरण के बाद हत्या का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि फिर प्रदेश के सिवनी जिले में चाकू की नोंक पर चार नाबालिग लड़कियों के अपहरण का और सनसनीखेज मामला सामने आया है। बता दें कि, सोमवार की सुबह शहर की रहने वाली चार नाबालिग लड़कियां स्कूल जा रही थीं, तभी रास्ते में मिले चार युवकों ने उन्हें जबरदस्ती अपनी गाड़ी में बैठा लिया। लड़कियों ने इसका विरोध किया तो अपहरणकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट की और उन्हें काबू में लाने के लिए कोई नशीला पदार्थ भी खिला दिया। हालांकि, चारों बच्चियों की सूझबूझ से वो किसी तरह गाड़ी से भाग निकलकर अपनी जान बचाने में कामयाब हो गईं।

जान बचाकर किसी तरह अपने घर पहुंची चारों बच्चियां काफी घबराई हुई हैं। उन्होंने परिवार को बताया कि, आरोपी उन्हें करीब दो-तीन घंटे गाड़ी में घुमाते रहे। लेकिन मौका पाकर किसी तरह वो गाड़ी से कूदकर भाग आईं। परिजन ने तुरंत इस पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी, इसपर पुलिस ने भी मुस्तैदी दिखाते हुए घेराबंदी करके आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद शहरभर के लोगों में देहशत का माहौल है लोगों में सवाल उठने लगे हैं, आए दिन हो रहे इन अपहरणों से वो अपने बच्चों को स्कूल कैसे भेजें?

घटना की जानकारी देते हुए पीड़ित बच्चियों ने पुलिस को बताया कि, रोजाना की तरह सुबह चारों बच्चियां घर से महारानी लक्ष्मीबाई स्कूल जाने के लिए निकली थीं। तभी शहर के दिलबाग नगर में बोलेरो मे सवार चार युवकों ने उनके गले पर चाकू रखते हुए गाड़ी में बैठने की धमकी दी। बच्चियों ने इसका विरोध किया तो युवकों ने उन्हें जबरन गाड़ी में बैठा लिया। इसके बाद उन्होंने छात्राओं को कोई नशीला पदार्थ खिलाया ताकि, वो किसी तरह की सूझबूझ ना दिखा सकें। चारों अपहरणकर्ता उन्हें शहर की सड़कों पर घुमाते रहे। जैसे-तैसे मौका पाकर लड़कियां आरोपियों के चंगुल से छूटकर घर पहुंची, जहां परिजन की मदद से उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। हालांकि पुलिस ने तुरंत पूरे शहर में घेराबंदी करते हुए चार में दो आरोपियों को दबोच लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *